भूलकर भी गूगल पर सर्च ना करें ये बातें, करना पड़ सकता मुसीबत का सामना

0
283

मुंबई: किसी भी चीज के बारे में जानने के लिए हम गूगल का इस्तेमाल करते हैं। हमारी आदत ही वैसी बन गई है कि हम कुछ भी सर्च करने के लिए सीधा गूगल खोल लेते हैं। मगर हम कभी ये नहीं सोचते कि जो भी जानकारी हमें गूगल देता है उस कंटेट को वह खुद नहीं बनाता है, बल्कि ये सिर्फ एक ऑनलाइन प्लेटफॉर्म है। यहां यूजर्स के सर्च के आधार पर अलग-अलग वेबसाइट की लिंक दिखाई देती है। तो जरूरी नहीं कि आप जो भी गूगल पर सर्च कर रहे हैं वह सब सही और सटीक ही है।

बैंक की ऑनलाइन वेबसाइट: इस बात की सख्ती से सलाह दी जाती है कि कभी भी अपने बैंक की ऑनलाइन बैंकिंग वेबसाइट को गूगल पर सर्च ना करें। ऐसा आप तभी करें जब तक आपको उसका सही यूआरएल ना पता हो। ऐसा इसलिए कि हो सकता है कि आप ऑफिशियल वेबसाइट की जगह अपने बैंक का लॉगइन पासवर्ड किसी फेक वेबसाइट पर डाल दें, जिससे हैकर्स आपकी डिटेल का गलत फायदा उठा सकते हैं।

किसी कंपनी का कस्टमर केयर नंबर ना सर्च करें: जालसाज फेक बिज़नेस लिस्टिंग और गलत कस्टमर केयर नंबर बना कर यूज़र्स को चूना लगाते हैं। गूगल पर कस्टमर केयर नंबर सर्च सबसे आम स्कैम है।

ऐप्स और सॉफ्टवेयर डाउनलोड: मोबाइल ऐप्स के लिए हमेशा ऑफिशियल ऐप स्टोर गूगल प्ले या ऐप स्टोर का इस्तेमाल करना चाहिए। गूगल पर ऐप्स और सॉफ्टवेयर सर्च करने पर आप मैलवेयर का शिकार हो सकते हैं।

दवा या बीमारी के लक्षण: बीमार होने पर कभी भी डॉक्टर को छोड़ गूगल पर इलाज ना सर्च करें। साथ ही कभी भी गूगल पर बीमारी से जुड़ी जानकारी के आधार पर दवा ना खरीदें।

पर्सनल फाइनेंस और स्टॉक मार्केट की सलाह: गूगल पर कभी पर्सनल फाइनेंस और स्टॉक मार्केट की सलाह नहीं लेनी चाहिए। गूगल सर्च करने पर हमें कोई ऑथेंटिक सोर्स नहीं मिलता है। ऐसे में हमें लेन-देन से जुड़ा चूना लग सकता है।

सरकारी वेबसाइट: स्कैमर्स सबसे ज़्यादा सरकारी वेसबाइट, जैसे बैंकिंग की, म्युनिसिपैलिटी या फिर अस्पताल की वेबसाइट को निशाना बनाते हैं। इसलिए ये जानने कि ओरिजनल वेबसाइट की पहचान करना मुश्किल होता है।

सोशल मीडिया लॉगइन पेज: सोशल मीडिया एक्सेस करने के लिए हमेशा डायरेक्ट उसका यूआरएल लिखें। गूगल पर किसी भी सोशल मीडिया का लॉगिन पेज सर्च करना खतरा हो सकता है।

ई-कॉमर्स वेबसाइट ऑफर्स: गूगल पर ई-कॉमर्स वेबसाइट के ऑफर्स के फेक पेज की भरमार है। स्पैमर्स लोगों मैलिशियल वेबसाइट से यूजर्स की बैंकिंग डिटेल चुरा लेते हैं।

फ्री एंटी-वायरस: गूगल पर एंटी-वायरस ऐप्स और सॉफ्टवेयर सर्च करने से बचें। ऐसे में ओरिजिनल ऐप्स को पहचानना मुशकिल होता है और इससे आपकी डिवाइस में वायरस आने का खतरा रहता है।

कूपन कोड: अगर आपको शॉपिंग के लिए कूपन कोड मिलता है तो ठीक है। लेकिन कभी भी गूगल पर कूपन कोड सर्च ना करें, क्योंकि कई बार फेक वेबसाइट सस्ते कूपन्स बेचकर आपको लुभा सकती है। इससे आपकी बैंकिग डिटेल चोरी होने का खतरा रहता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here