महाराष्ट्र में कोरोना मरीजों की संख्या 2 हजार के पार, मुंबई में मिले 59 पॉजिटिव

0
236

मुंबई: महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के मामले देश में सबसे अधिक तेजी से बढ़ रहे हैं। प्रदेश में कोरोना मरीजों की संख्या 2 हजार के पार चली गई है। देश का एकमात्र ऐसा राज्य है जहां कोविड-19 संक्रमितों की संख्या 2 हजार से अधिक है। इसके बाद दिल्ली और तमिलनाडु में सबसे अधिक कोरोना संक्रमित मरीज हैं।

महाराष्ट्र के स्वास्थ्य विभाग ने सोमवार को बताया कि राज्य में 82 नए कोरोना संक्रमित आए हैं। इनमें से 59 मुंबई से हैं। राज्य में कोरोना संक्रमितों की संख्या 2064 हो गई है। अधिकारी के अनुसार कोरोना वायरस के नये मामलों में 59 मरीज मुम्बई के और तथा 12 नासिक जिले के मालेगांव तहसील के हैं। उनके मुताबिक इसके अलावा ठाणे से 5, पुणे से तीन, पालघर से दो और वसाई विरार से एक एक मामला सामने आया है। सबसे अधिक चिंता मुंबई के धारावी स्लम को लेकर है। एशिया की इस बड़ी झुग्गी बस्ती में कोरोना महामारी के मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर जारी आंकड़ों के मुताबिक महाराष्ट्र में कोरोना की वजह से 149 लोगों की मौत हो चुकी है। यह देश के मृतकों की कुल संख्या 308 का करीब आधा है। दिल्ली में कोरोना के 1154 मरीज हैं, जिनमें 27 ठीक हुए हैं तो 24 लोगों की मौत हई है। तमिलनाडु में 1043 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं, जिनमें से 50 ठीक हुए हैं तो 11 की मौत हो चुकी है।

तबलीगी जमात के लापता 58 लोगों सें 40 का पता चला
महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने सोमवार को कहा कि महाराष्ट्र से लापता तबलीगी जमात के 58 सदस्यों में से 40 का पता लगा लिया गया है और उन्हें पृथकवास में रखा गया है। ये 58 लोग पिछले महीने दिल्ली के निजामुद्दीन में जमात के कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे थे। मंत्री ने कहा कि इस इस्लामिक संगठन के बाकी 18 सदस्य अब भी लापता हैं तथा उन्हें ढूढ़ने की कोशिश की जा रही है। उन्होंने कहा कि पिछले सप्ताह तक इस संगठन के 58 सदस्य लापता थे इनमें से कई व्यक्तियों ने अपने मोबाइल बंद कर लिये थे जिस वजह से उन्हें ढूढना मुश्किल हो रहा था।

महाराष्ट्र के आवास मंत्री जितेन्द्र आव्हाड क्वारंटाइन
महाराष्ट्र के आवास मंत्री जितेन्द्र आव्हाड ने कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए एक व्यक्ति के संपर्क में आने के बाद खुद को सबसे अलग करने का सोमवार को फैसला किया। सूत्रों ने बताया कि मंत्री हाल ही में एक पुलिस अधिकारी से मिले थे, जो कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया है। इसके बाद अव्हाड ने एहतियाती तौर पर अगले कुछ दिनों के लिए खुद को पृथक करने का फैसला लिया। अव्हाड ठाणे जिले के कलवा-मुंब्रा विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं, जहां पिछले कुछ सप्ताह में कई लोग संक्रमित पाए गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here