‘राम’ के किरदार के लिए ऑडिशन में रिजेक्ट हो गए थे अरुण गोविल

0
70

मुंबई: दूरदर्शन पर रामायण खत्म हो गई है। रामानंद सागर की रामायण ने न सिर्फ दर्शकों बल्कि शो में अलग-अलग पात्रों का किरदार निभा रहे अभिनेत्री और अभिनेताओं को उनके पुराने दिनों को याद दिला दिया। 80 के दशक में रामायण देखने के लिए पूरा परिवार टीवी के सामने हाथ जोड़कर बैठ जाया करता था। राम, सीता और लक्ष्मण को लोग उनके असली नाम से नहीं जानते थे ,रामायण के राम यानी अरुण गोविल का कहना है कि रामायण ने उन्हें वो दिया, जो 100 बॉलीवुड की फिल्में नहीं दे सकतीं।

एक इंटरव्यू देते हुए अरुण गोविल ने पुरानी यादें ताजा की हैं। अरुण गोविल ने बताया कि असल में जब वह ‘रामायण’ के लिए पहली बार ऑडिशन देने गए तो उन्हें रिजेक्ट कर दिया गया था। लेकिन बाद में मेकर्स उनके पास आए और ‘राम’ का रोल ऑफर किया, जिसके बाद उनकी जिंदगी बदल गई।

अरुण गोविल कहते हैं कि मैंने राम के लिए ऑडिशन दिया था। लेकिन मेकर्स ने रिजेक्ट कर दिया। उस समय उन्हें मेरा काम पसंद नहीं आया था। लेकिन बाद में वे खुद मेरे पास आए। जो व्यक्ति लक्ष्मण का किरदार निभा रहा था वह चार एपिसोड शूट करने के बाद सीरियल छोड़कर चला गया। इसके बाद वह रोल सुनील लहरी को मिला। लेकिन सुनील इससे पहले शत्रुघ्न का किरदार निभा रहे थे। हमारे म्यूजिक डायरेक्टर जयदेव जी का निधन हो गया था, इसी बीच रविंद्र जैन जी आए। जयदेव जी ने ‘रामायण’ का केवल टाइटल ट्रैक कंपोज किया है। ऐसी ही कई चीजें शूटिंग के दौरान होती रही, लेकिन हम शूटिंग करते रहे।

अरुण गोविल खुश हैं कि लॉकडाउन के चलते इसका दोबारा प्रसारण किया गया। और जिस तरह पुराने दौर में इसे लोगों से प्यार मिला था, इस बार भी उतना ही प्यार देखने को मिला। आपको बता दें कि कोरोना वायरस लॉकडाउन की वजह से सभी टीवी सीरियल्स की शूटिंग रुक गई है। 33 साल बाद ‘रामायण’ की वापसी दूरदर्शन पर हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here