तबलीगी जमात पर स्वरा और बबीता के बीच ट्विटर पर छिड़ी जंग

0
219

मुंबई: भारत की स्टार महिला पहलवान बबीता फोगाट इन दिनों अपने एक ट्वीट को लेकर काफी चर्चा में हैं। देशभर में कोरोना संक्रमण के मामलों के लेकर बबीता फोगाट ने एक ट्वीट किया था, जिसमें निशाने पर तबलीगी जमात से जुड़े लोग थे। इसे लेकर बबीता के खिलाफ बॉलीवुड एक्ट्रेस स्वरा भास्कर भी मैदान में कूद पड़ी हैं। स्वरा ने बबीता फोगाट को घरेने की कोशिश करते हुए एक ट्वीट किया और इसका उन्हें करारा जवाब भी मिला है। स्वरा ने अपने ट्वीट में बबीता से कुछ सवाल किए थे, हालांकि साथ ही लिखा था कि वह पहलवान की फैन भी हैं।

स्वरा ने ट्विटर पर एक डाटा शेयर किया, जिसमें बताया गया है कि 9-19 मार्च के बीच भारत में कहां-कहां धार्मिक स्थलों पर कितने लोग पहुंचे थे। उन्होंने इस डाटा को शेयर करते हुए अपने ट्वीट में लिखा, ‘बबीता जी यह आंकड़ा भी देखें। क्या इन लाखों भक्तगण के कोरोना टेस्ट हुए हैं? कृपया, इसपर भी टिप्पणी दें। और तबलिगी जमात के प्रोग्राम को दिल्ली पुलिस ने इजाजत क्यों दी? यह सवाल भी उठाएं, बाकी आपके फैन तो हम हैं ही।’

इस पर बबीता फोगाट ने जवाब में लिखा, ‘मेरी फैन- मेरी बहन स्वरा भास्कर! बहन…. 135 करोड़ के हमारे राष्ट्र में महामारी से बचाव के रेस्क्यू प्रयास और टेस्ट सरकार की तरफ से जारी हैं। दिल्ली से तो लाखों मजदूर भी बिहार और उत्तर प्रदेश. के लिए निकले, पर कोरोना संक्रमण को फैलाने में सबसे आगे जाहिल जमाती ही क्यों ???’

भारत में कोरोना के बढ़ रहे मामलों पर स्टार पहलवान और बीजेपी नेता बबीता फोगाट ने बीते दिनों तबलीगी जमात को लेकर एक ट्वीट किया था, जिस पर काफी हल्ला हुआ था। इस ट्वीट के बाद उनको सोशल मीडिया पर काफी ट्रोल किया जा रहा है। बबीता ने अब एक वीडियो शेयर कर अपने आलोचकों को करारा जवाब दिया।

बबीता फोगाट ने एक वीडियो में कहा, ‘कुछ दिन पहले मैंने ट्वीट किया था। इसके बाद से कुछ लोग सोशल मीडिया पर गलत-गलत मैसेज करने लगे, गालियां देने लगे और फोन करके धमकी भी देने लगे हैं। उन लोगों को कह रही हूं कि कान खोलकर सुन लो और दिमाग में बैठा लो। मैं कोई जायरा वसीम नहीं हूं, जो तुम्हारी धमकियां सुनकर घर बैठ जाऊंगी। मैं बबीता फोगाट हूं, देश के लिए लड़ी हूं और ऐसे ही लड़ती रहूंगी। जिन लोगों को सच सुनने में परेशानी है, वे लोग एक बात और सुन लें कि मैं सच बोलती रहूंगी और सच लिखती रहूंगी। अगर सच सुनना पसंद नहीं करते हैं या तो अपनी आदत सुधार लें या फिर सच सुनने की आदत डाल लें।’

स्वरा भास्कर ने जो ट्वीट किया है, उसमें उन्होंने जो डाटा दिया है वह जनता कर्फ्यू और लॉकडाउन से पहले का है। तथ्य यह है कि लॉकडाउन की घोषणा के बाद दिल्ली के निजामुद्दीन में तबलीगी जमात के मरकज में करीब ढाई हजार लोग मौजूद थे। 29 मार्च को दिल्ली पुलिस की टीम ने बलपूर्वक मरकज खाली कराया था। इसके बाद से देश के तमाम हिस्सों से ऐसी खबरें भी आईं कि जमात के समर्थकों ने पुलिस और स्वास्थकर्मियों के साथ दुर्व्यवहार किया है। देश के कई शहरों में कोरोना वॉरियर्स पर पत्थरबाजी भी हुई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here