लाहौर में गिरफ्तार हुआ मुंबई हमलों का मास्टरमाइंड हाफ़िज़ सईद

0
193

लाहौर: मुंबई हमलों के मास्टरमाइंड माने जाने वाले हाफ़िज़ सईद को पाकिस्तान के लाहौर में गिरफ़्तार किया गया है। हाफ़िज़ को तब गिरफ़्तार किया गया जब वे पंजाब के आंतकवाद निरोधी विभाग के एक मामले में गिरफ़्तारी से पहले ज़मानत लेने के लिए गुजरांवाला जा रहे थे। इसके बाद उन्हें लाहौर के कोट लखपत जेल में भेजा गया है। आतंक निरोधी विभाग के मुताबिक हाफ़िज़ को 30 दिनों के बाद कोर्ट में पेश किया जाएगा।

हाफ़िज़ सईद मुंबई हमलों के अभियुक्त हैं। उन्हें पाकिस्तान सरकार ने चरमपंथ के लिए फ़ंड इकट्ठा करने के आरोप में गिरफ़्तार किया है। पंजाब के राज्यपाल शाहबाज़ गिल के प्रवक्ता ने बताया, “उन पर मुख्य आरोप ये था कि वे बैन हो चुकी संस्थाओं के लिए चंदा जुटा रहे थे, जो गैर क़ानूनी है।”

दरअसल हाफ़िज़ पर ये कार्रवाई पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान ख़ान के वाशिंगटन दौरे से कुछ दिन पहले हुई है ताकि पाकिस्तानी प्रधानमंत्री दुनिया भर में चरमपंथियों के ख़िलाफ़ कार्रवाई करने का संदेश दे सकें। जुलाई के पहले हफ्ते में जमात-उद-दावा के प्रमुख हाफ़िज़ सईद के ख़िलाफ़ मुक़दमा दर्ज किया गया था।

आतंकवाद-रोधी विभाग के मुताबिक़, हाफ़िज़ सईद समेत लश्कर-ए-तयैबा और फ़लाह-ए-इंसानियत फ़ाउंडेशन के 13 सदस्यों के ख़िलाफ़ पंजाब के अलग-अलग शहरों में 23 मुक़दमे दर्ज किए गए थे।

सोमवार को ही लाहौर के आंतक निरोधी अदालत ने एक मामले में जमात-उद-दावा की ओर से गैर क़ानूनी तरीके से ज़मीन के इस्तेमाल पर 50 हज़ार रुपये के मुचलका भरने पर अग्रिम ज़मानत दी थी।

हाफ़िज सईद पर आरोप है कि उन्होंने कई ग़ैर-सरकारी संस्थाएं बनाईं जो आतंकवाद के लिए इकट्ठा किए जाने वाले पैसे से बनाए गए हैं। फिर उन्हें इस्तेमाल करते हुए चरमपंथी गतिविधियों के लिए और पैसा जमा किया गया।

जमात-उद-दावा के प्रवक्ता अहमद नदीम ने बीबीसी से कहा कि उन्होंने एफ़आईआर के ख़िलाफ़ लाहौर हाई कोर्ट में पहले ही याचिका दायर की है और कोर्ट ने गृह मंत्रालय और विभाग के अधिकारियों से इस पर 30 जुलाई तक जवाब तलब किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here