लोकसभा चुनाव में प्रचार के लिए नहीं मिला पैसा: उर्मिला मातोंडकर

0
202
Urmila Matondkar
मुंबई: लोकसभा चुनाव में हार मिलने के बाद कांग्रेस पार्टी की अंदरुनी परेशानियां कम होने का नाम नहीं ले रही है। जहां एक ओर मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष मिलिंद देवड़ा सहीत कई कांग्रेसियों ने अपने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है तो वही दूसरी ओर अब उत्तर मुंबई से पार्टी की उम्मीदवार और अभिनेत्री उर्मिला मातोंडकर ने भी कांग्रेस कार्यकर्ताओ पर साथ ना देने का आरोप लगाया है।  कांग्रेस ने उर्मिला मातोंडकर को उत्तर मुंबई लोकसभा सीट से  गोपाल शेट्टी के खिलाफ उम्मीदवार बनाया था। हालांकी इस सीट पर बीजेपी के गोपाल शेट्टी ने अपनी जीत दर्ज की।

उर्मिला ने मिलिंद देवड़ा को नौ पन्नो का एक पत्र लिखा है जिसमें उन्होने कहा है की लोकसभा चुनाव में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने उन्हे हराया है। उर्मिला ने शिकायत की कि पार्टी कार्यकर्ताओ ने उन्हे अभियान में सहयोग नहीं किया। उन्होने ऐसे कार्यकर्ताओ के खिलाफ तत्काल कार्रवाई की भी मांग की है। 

उर्मिला ने अपने पत्र में लिखा है की  केंद्रीय कार्यालय  में पर्याप्त जगह नहीं थी।  निर्वाचन क्षेत्र में छोटे कार्यालय नहीं बनाए गए। प्रचार सामग्री का वितरण ठीक से नहीं किया गया जिसके कारण मतदाताओं तक अपनी बात सही ढंग से नहीं पहुंची। प्रचारसभापदयात्रा समय पर नहीं शुरु हुई जैसी कई शिकायतें उन्होने इस पत्र में लिखी है।

फिलहाल लोकसभा में हार को लेकर कांग्रेस में मंथन जारी है राहुल गांधी के इस्तीफे के बाद से कांग्रेस के पदाधिकारियों ने इस्तीफे दिया है इसी कड़ी में मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष से मिलिंद देवड़ा ने इस्तीफा दे दिया है देवड़ा ने कहा कि वह पार्टी को मजबूत करने के लिए राष्ट्रीय स्तर पर भूमिका निभाने की आशा करते हैं देवड़ा ने इस साल के आखिर में होने वाले महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव तक नगर पार्टी इकाई के कामकाज की देखरेख के लिए कांग्रेस के तीन वरिष्ठ नेताओं की सदस्यता वाला एक अस्थायी सामूहिक नेतृत्व (समिति) गठित करने की सिफारिश की है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here