मिशन मंगल रिव्यु: गर्व से भर देगी अक्षय कुमार की ये फिल्म

0
100
Mission Mangal
Mission Mangal

मुंबई: फिल्म की कहानी मंगलयान की सफलता पर आधारित है। स्पेस रिसर्च ऑर्गेनाइजेशन (इसरो) ने मंगल ग्रह पर मंगलयान भेजा था। फिल्म में दिखाया गया है कि किस तरह मिशन मंगल की शुरुआत होती है और किस तरह एक-एक नायक को जोड़कर इस खास टीम का निर्माण किया जाता है। टीम में चार महिला वैज्ञानिक जो न सिर्फ अलग-अलग कल्चर से हैं बल्कि उनका बैकग्राउंड भी अलग है। इन महिलाओं के मिलने के बाद एक परफेक्ट टीम का निर्माण होता है।

मंगलयान प्रोजेक्ट में चार महिला वैज्ञानिक जिन्होंने रॉकेट को तैयार किया और इस असंभव मिशन को पूरा किया। यही नहीं मंगलयान के जरिए महिलाओं ने साबित किया कि काम चाहे जैसा भी हो वो हर परिस्थिती में खुद को साबित करना जानती हैं।फिल्म में महिलाओं के टीम पॉवर को दिखाया गया है। फिल्म में अक्षय कुमार, तापसी पन्नू, सोनाक्षी सिन्हा, नित्या मेनन, कीर्ति कुल्हारी, विद्या बालन मुख्य भूमिका में हैं।

फिल्म का स्क्रिन प्ले, परफॉर्मेंस और डायरेक्शन तीनों ही शानदार है। इसकी कहानी को मंगलयान प्रोजेक्ट पर फोकस किया गया है। जिसमें सभी किरदारों को बलैंस तरीके से दिखाया गया है। एक्टिंग की बात करें तो अक्षय और विद्या बालन की बेहतरीन एक्टिंग के अलावा उनका दोस्ताना अंदाज लोगों को बेहद पसंद आने वाला है। फिल्म की कहानी शुरू होती है अक्षय कुमार के दिलचस्प परिचय से। वहीं विद्या एक ऐसी साइंटिस्ट की भूमिका में है जो पहले एक रॉकेट लॉन्च करने में फेल हो जाती हैं, जिसकी वजह से करोड़ों को नुकसान होता है। बाद में दोनों की मुलाकात होती है फिर मिशन मंगल के लिए प्लानिंग बनती है।

मिशन मंगल से नित्या मेनन ने बॉलीवुड में डेब्यू किया है। एक्ट्रेस अपने किरदार के साथ पूरी तरह न्याय करती नजर आती हैं। वहीं फिल्म में विद्या बालन अपने किरदार में न सिर्फ फिट बैठती हैं बल्कि सभी किरदारों से जुड़ी हुई नजर आती हैं। उन्होंने पर्दे पर दमदार एक्टिंग की है जिससे फैंस एक पल के लिए भी अपनी नजर नहीं हटाना चाहेंगे। इसके अलावा फिल्म में भारतीय वैज्ञानिक की भूमिका में दलीप ताहिल भी अपने किरदार में जान डालते नजर आते हैं। दलीप ताहिल के साथ कुछ जगहों पर अक्षय कुमार का अभिनय ढीला पड़ता नजर आता है।

देशभक्ति पर आधारित ये फिल्म लोगों को इमोशनल और गर्व से भर देगी। फिल्म में एक सीन है जिसमें शराब पीने के बाद एक फाइट होती है। जिसे देखने के बाद लगता है जैसे इसकी कोई जरूरत नहीं था। इसके अलावा सोनाक्षी सिन्हा ने ठीक-ठाक एक्टिंग की है। जगन शक्ति द्वारा डायरेक्ट मिशन मंगल की कहानी बेहतरीन तरीके से लिखी गई है। डायरेक्शन के मामले में जगन ने किसी एक किरदार को नहीं बल्कि सभी कैरेक्टर को एक दूसरे से बांधे रखा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here