कश्मीर मुद्दे पर भारत को मिला फ्रांस का साथ

0
119

फ्रांस: जम्मू-कश्मीर में भारत सरकार की ओर से आर्टिकल 370 हटाए जाने का विरोध कर रहे पाकिस्तान को एक और झटका लगा है। फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुअल मैक्रों ने कश्मीर मुद्दे पर भारत का समर्थन किया है और किसी भी तीसरे देश को इस मामले में दखल ने देने की हिदायत दी है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बृहस्पतिवार को फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुअल मैक्रों के साथ लंबी बातचीत की। इस मौके पर दोनों ही देशों ने रणनीतिक साझेदारी को बढ़ावा देने के लिए गतिशील और बहुआयामी संबंधों के संपूर्ण आयाम की समीक्षा की। विदेश मंत्रालय से प्रवक्ता रवीश कुमार ने बताया कि दोनों देशों के नेताओं ने 90 मिनट से ज्यादा समय तक आमने-सामने बैठेकर बातचीत की और कई अहम मुद्दों पर चर्चा की।

दोनों देशों के नेताओं की बातचीत चेतऊ डी चैन्टिली में हुई। पेरिस से करीब 50 किलोमीटर दूर स्थित यह इमारत फ्रांसिसी सांस्कृतिक विरासत को बेहतरीन नगीना है। इससे पहले, प्रधानमंत्री मोदी का हवाईअड्डे पहुंचने पर यूरोप और विदेश मामलों के मंत्री जीन येव्स ले ड्रायन ने स्वागत किया।

फ्रांस ने दोनों ही पक्षों से तनाव कम करने की अपील की
फ्रांस के विदेश मंत्रालय ने एक बयान में बताया कि द्रियां ने कहा कि इस मामले में फ्रांस का रुख यही रहा है कि यह दो देशों के बीच का मामला है और राजनीतिक वार्ता से इसको सुलझाया जाए ताकि शांति स्थापित हो सके। फ्रांस ने संबंधित पक्षों से तनाव कम करने की अपील की है।

स्मारक स्थल का करेंगे उद्घाटन
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी दो दिवसीय यात्रा के दौरान अपने फ्रांसीसी समकक्ष एडवर्ड फिलिप से भी मुलाकात करेंगे और यहां भारतीय समुदाय से मिलेंगे। यात्रा के दौरान वह फ्रांस में 1950 और 1960 के दशकों में एयर इंडिया के दो विमान हादसों में मारे गए लोगों की याद में बनाए गए स्मारक स्थल का उद्घाटन करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here