वॉट्सऐप हैक कर 100 से अधिक लड़कियों को ब्लैकमेल करने वाला गिरोह पकड़ा

0
110

मुंबई: साइबर क्राइम ब्रांच ने कॉलेज की छात्राओं और महिलाओं के वॉट्सऐप हैक कर उनकी निजी जानकारी जुटाकर ब्लैकमेल करने वाले एक गिरोह का भंडाफोड़ किया है। पुलिस ने इस मामले में मुख्य आरोपी और एक महिला सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया है।

आरोपी वॉट्सऐप पर पर्सनल चैटिंग को वायरल करने के नाम पर ब्लैकमेल कर उनसे रुपये ऐंठते थे। तीनों को जेल भेज दिया गया है। आरोपी ज्यादातर कॉलेजों की छात्राओं को अपना शिकार बनाते थे। पुलिस ने आरोपियों से वारदात में इस्तेमाल किए गए मोबाइल फोन, सिम कार्ड और कई महिलाओं की पर्सनल जानकारी व तस्वीरें बरामद की हैं।

एसीपी अनिल यादव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में खुलासा करते हुए बताया कि इस गिरोह ने पलवल, फरीदाबाद, गुरुग्राम और दिल्ली की करीब 100 से अधिक महिलाओं को अपने जाल में फंसाकर ब्लैकमेल किया है।

एनआईटी की बहादुर लड़की की बदौलत खुला राज

गिरोह में शामिल एक मोबाइल कम्पनी के प्रमोटर सत्तार खान की मदद से सिम पोर्ट कराते समय आरोपी फर्जी आधार कार्ड का इस्तेमाल करते थे। गिरोह ने वॉट्सऐप की चैंटिंग को वायरल करने का डर दिखाते हुए जब एनआईटी की एक लड़की व उसके जानकारों को ब्लैकमेल करना चाहा तो पीड़िता ने पुलिस को इस बारे में शिकायत कर दी। पुलिस आयुक्त के.के. राव ने इसे गंभीरता से लिया। साइबर सेल प्रभारी निरीक्षक बसंत कुमार की टीम ने इस मामले की गहनता से जांच की। पुलिस ने इस मामले में पलवल के झावर नगर निवासी मनीष जैन, तिगांव की पूजा, व यूपी के बुलंदशहर के गांव कुटवाया निवासी सत्तार खान को गिरफ्तार कर लिया।

लड़कों से दोस्ती कर जुटाते थे लड़कियों के नंबर

गिरफ्तार मुख्य आरोपी मनीष जैन के खिलाफ पलवल, गुरुग्राम, दिल्ली में भी इसी तरह की वारदातों के कई मामले दर्ज हैं। पूछताछ में यह बात सामने आई कि गिरोह में शामिल ये लोग स्कूल या कॉलेज के लड़कों से दोस्ती करके लड़कियों के मोबाइल नंबर हासिल कर लेते थे। उसके बाद फर्जी मोबाइल नंबरों से उन्हें कॉल कर धोखाधडी से उनके वॉट्सऐप चैट को हैक कर लिया जाता था। कुछ लड़कियां उनके दवाब में आकर उनके बताए अकांउट में पैसे डलवा देती थीं।

दिल्ली-गुरुग्राम पुलिस को जानकारी दी गई

पुलिस प्रवक्ता सुबे सिंह ने आरोपियों को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है। अगर किसी को आरोपियों ने इन नंबर 9971471819, 7419171776, 9319130978 से ब्लैकमेल किया है तो वे अपनी शिकायत संबंधित थाना पुलिस को दे सकते हैं। आरोपियों की गिरफ्तारी के बारे में गुरुग्राम एवं दिल्ली पुलिस को भी सूचित कर दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here