यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन से बचने के लिए प्राइवेट पार्ट की रखें साफ-सफाई

0
71

मुंबई: आमतौर पर हम बाहरी साफ-सफाई का तो ध्यान रखते हैं लेकिन प्राइवेट पार्ट के साफ न होने की वजह से इंफेक्शन को लेकर जागरुक नहीं रहते, जिसकी वजह से हम कई बीमारियों से घिर जाते हैं। यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन दर्दनाक तो होता ही है, साथ ही इसकी वजह से हमारे कई काम भी प्रभावित होने लगते हैं। वह भी खासतौर पर उस स्थिति में जब यह थोड़े बहुत समय बाद बार-बार हो रहा हो। आइए, जानते हैं इन्हें साफ रखने के कुछ उपाय-

-कुछ लोगों में डायबिटीज के कारण तो कुछ लोगों में अन्य वजहों से बार-बार यूरिन आने की दिक्कत होती है। ऐसा होने पर इनर्स में गीलापन और बार-बार टॉयलट सीट के संपर्क में आने पर इंफेक्शन पनपने का खतरा बढ़ जाता हैजरूरी नहीं है कि अपके प्राइवेट पार्ट में जलन और बर्निंग की वजह सेहत से ही जुड़ी हो, यह आपकी हाइजीन से भी जुड़ी हो सकती है। कई बार कपड़े धोने का सोप, सर्फ या उनके सुखाने की जगह हमारी सेहत को नुकसान पहुंचा रही होती है, इन्हें बदलकर देखें।

-लिक्विड डाइट लेते रहें। जैसे, जूस, सूप, पानी, ग्रीन-टी आदि। फल और सलाद भी शरीर के अंदर पानी की मात्रा को संतुलित रखने का काम करते हैं। अगर आप हर रोज जरूरत के हिसाब से लिक्विड डायट लेते रहेंगे तो ब्लेडर में बैक्टीरिया पनप ही नहीं पाएगा। क्योंकि समय-समय पर टॉइलट के जरिए आपका यूरिनरी ट्रैक्ट क्लीन होता रहेगा।

-मोशन यानी पॉटी जाने के बाद आप अपने इनर पार्ट्स को आगे और पीछे दोनों तरफ से टिश्यू पेपर की मदद से ठीक से साफ करें। यहां गीलापन ना रहने दें। आमतौर पर बैक्टीरिया एनेक्स यानी मल-मार्ग के आस-पास पनपता है और अक्सर यही बैक्टीरिया यूरेट्रा तक इंफेक्शन पहुंचने का कारण बन जाता है।

-सेक्स से पहले अपने प्राइवेट पार्ट्स को दोनों ही पार्टनर्स को अच्छी तरह साफ करना चाहिए। साथ ही सेक्स के बाद यूरिन जरूर जाएं और सिंपल पानी से ही सही वॉश जरूर करें। वॉश करने के बाद टिश्यू या सॉफ्ट कॉटन फेब्रिक से पानी जरूर साफ करें।

-आपको अगर बार-बार वहां खुजली होती है, तो आप डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं। प्राइवेट पार्ट की परेशानियों को कभी भी अनदेखा नहीं करना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here